ताजा ख़बरें

स्वच्छता का पंच:डोर-टू-डोर पहुंचने वाले ड्राइवर-हेल्पर को पहनाई माला, खिलाई मिठाई

इंदौर को सबसे साफ शहर का लगातार पांचवीं बार तमगा दिलाने वाले सफाई मित्रों का रविवार को अधिकारियों के साथ ही आम जनता ने भी अभिनंदन किया। कचरा संग्रहण करने डोर-टू-डोर पहुंचने वाले ड्राइवर और हेल्परों व सड़कों पर सफाई करने वाले कर्मचारियों का आम लोगों ने भी हार-फूल से स्वागत किया और उन्हें मिठाई खिलाई। अपने खास सत्कार से सफाई कर्मचारी अभिभूत हो गए।

उनका कहना है कि राष्ट्रीय स्तर पर सफाई मित्र का पुरस्कार मिलने से अधिक खुशी वार्ड में अपने लोगों द्वारा उन्हें मान देने से हुई। नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने इंदौर को प्राप्त तीनों अवॉर्ड शहर के जागरूक नागरिकों व हर मौसम में सातों दिन ड्यूटी निभाने वाले सफाई मित्रों के नाम किए।

उन्होंने सफाई मित्रों के प्रति आभार जताते हुए महिला सफाई मित्रों का पुष्प गुच्छ देकर सम्मान किया। प्रतिदिन की तरह रविवार को जब वे कचरा संग्रहण वाहन लेकर पहुंचे तो लोगों ने ताली बजाकर अगवानी की। लोगों ने कहा कि इंदौर को नंबर 1 का गौरव दिलाने में सफाई मित्रों का सबसे अधिक योगदान है, क्योंकि वे हर मौसम में और रोज अपना कार्य पूरी ईमानदारी से करते हैं।

सफाई कर्मचारियों के साथ ही क्षेत्रीय दरोगा और एनजीओ प्रतिनिधि का भी सम्मान किया

एलआईजी कॉलोनी (वार्ड 44), कुशवाहा नगर (वार्ड 17), विश्राम कॉलोनी (वार्ड 47), बाणेश्वरी कुंड (वार्ड 10), कमला नेहरू कॉलोनी (वार्ड 09), पंचवटी कॉलोनी (वार्ड 4), जनता कॉलोनी (वार्ड 7), नारायण बाग (वार्ड 57) के साथ ही वार्ड 48, वार्ड 49, वार्ड 55 में जगह-जगह सफाई मित्रों का स्वागत हुआ। तिलक पथ, गणेश कॉलोनी, पंचायत कॉलोनी व शहर की विभिन्न कॉलोनियों और मोहल्लों में सफाई कर्मचारियों, क्षेत्रीय दरोगा, एचएमएस बेसिक डिवाइन व अन्य एनजीओ के प्रतिनिधि का सम्मान किया गया।

रहवासी संगठन बप्पा ऑफ एलआईजी की ओर से यश नैनोरे, निखिल परेता, आदित्य पारीख, दीप मंडलोई, मेहुल दर्शनी व भावेश अग्रवाल ने फूल देकर अभिनंदन किया।

Related Articles

Back to top button