ताजा ख़बरें

प्रदेश में 01 जुलाई से नहीं खुलेंगे स्कूल – मुख्यमंत्री श्री चौहान

प्रदेश में 01 जुलाई से नहीं खुलेंगे स्कूल – मुख्यमंत्री श्री चौहान
…..
शैक्षणिक संस्थानों में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन अनिवार्य
…..
कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन आवश्यक
…..

शिक्षा पर गठित मंत्री समूह ने प्रस्तुत की अनुशंसाएं

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने कहा है कि कक्षा 12वीं के अंकों का निर्धारण कक्षा 10वीं के विभिन्न विषयों में प्राप्त अंकों को बेस्ट ऑफ फाइव के आधार पर किया जाए। यदि विद्यार्थी परिणाम सुधारना चाहते हैं तो वे परीक्षा देकर परिणाम सुधार सकते हैं। प्रदेश में एक जुलाई से स्कूल नहीं खुलेंगे। ऑनलाइन और टीवी के माध्यम से ही पढ़ाई की व्यवस्था जारी रहेगी। स्कूल खोलने के महत्वपूर्ण निर्णय के संबंध में केंद्र सहित अन्य राज्यों और विशेषज्ञों से चर्चा कर निर्णय लिया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में शासकीय और निजी शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थानों में कोविड -19 के दौरान भविष्य की रणनीति के संबंध में गठित मंत्री समूह की अनुशंसाओं पर मंत्रालय में चर्चा कर रहे थे। बैठक में खेल एवं युवा कल्याण, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री श्रीमती Yashodhara Raje Scindia वर्चुअली सम्मिलित हुईं। मंत्रालय में संपन्न बैठक में जनजातीय कार्य तथा अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री Vishvas Kailash Sarang , उच्च शिक्षा मंत्री Dr Mohan Yadav स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री Inder Singh Parmar तथा आयुष राज्य मंत्री श्री रामकिशोर कावरे उपस्थित थे। प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरुण शमी द्वारा प्रस्तुतीकरण दिया गया।
शिक्षण संस्थाओं को बनाया जाएगा कोरोना सेफ
मंत्री समूह द्वारा शैक्षणिक सत्र-2020-21 में संस्थाएं खोले जाने के संबंध में सभी हितग्राहियों जैसे विद्यार्थी, पालक, संस्था प्रमुख, शिक्षकों और आम नागरिकों से सुझाव प्राप्त कर अनुशंसाएं प्रस्तुत की गईं। प्राप्त अनुशंसाओं के अनुसार शिक्षकों का प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण कराया जाएगा। शैक्षणिक संस्थाओं में कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के उपायों पर विशेष प्रशिक्षण आयोजित किए जाएंगे। शिक्षण संस्थाओं को कोरोना सेफ बनाने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं विकसित की जाएंगी।

Related Articles

Back to top button