देश

उड़ती डस्ट लोगों को परोसी रही गंभीर बीमारियां क्रेशर प्लांट संचालकों की मनमानी पर नहीं लग पा रहा अंकुश

क्रेशर प्लांटों में नियमों का दरकिनार कर मनमानी की जा रही है। प्लांटों से उड़ने वाली धूल क्षेत्र के लोगों को गंभीर बीमारियां परोस रही है। बरही तहसील के बरही थाना क्षेत्र में दर्जनभर से अधिक क्रेशर प्लांट संचालित है जिससे ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। तहसील क्षेत्र के बिचपुरा, कनौर, जाजागढ़, दादरा करौदी कलां में एक दर्जन से अधिक क्रेशर प्लांट नियमों को ताक मे रखकर संचालित है क्रेशर की उड़ती धूल से ग्रामीण खासे परेशान है।

ददरा निवासी मुंशी कोल अमान कोल रामपाल कोल सहित अन्य लोगों का कहना है कि यहां एक दर्जन से अधिक क्रेशर प्लांट ऐसे है जिनमे सुरक्षा को ले कर किसी तरह कि व्यवस्था नही कि गई है सारी खदाने खुली पड़ी हुई है जिससे जान माल का आये दिन नुस्कान बना रहता है नियमों को ताक में रखते हुए धड़ल्ले से संचालित है।। गांव के अधिकांश लोग क्रेशर की उड़ती धूल से खांसी दमा सहित अन्य बीमारी से ग्रसित है। क्रेशर की उड़ती धूल को रोकने ग्रामीणों ने कई बार शासन प्रशासन को लिखित व मौखिक रूप से शिकायत किया लेकिन जिम्मेदार अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं जिससे क्रेशर प्लांट मालिकों के हौसले बुलन्द है।

नियमों की उड़ रही धज्जियां

जानकारी अनुसार हाल ही में प्रशासन ने क्रशर प्लांट संचालकों को एनजीटी के निर्देशों का पालन करने चार दिवार बाउंड्रीवाल धूल को रोकने पानी का छिड़काव करने सहित विभिन्न आदेश जारी किया था। जिसमे इन करौदी स्तिथि क्रेसारो मे आप देख सकते है ये जागेश ग्रोवर का क्रेसर प्लांट है जो बड़ी करौदी कला मे स्तिथि है क्रेसर मे जाने के बाद तहकी कात की गई तो पता चला कि क्रेसर संचालक के गुर्गे राजेश पटेल ने बताया कि हम वीडियो बना के प्रदुषण बोर्ड को भेज चुके है और हमे बोला गया है चलाते रहो डीक है यहाँ अब कुछ नही होने वाला है ए धूल इस तरह से उड़ रहा है कि 10मिनट मे आदमी यहाँ पूरा ढक जाता है यही हाल ददरा लीला राम गुप्ता क्रेसर प्लांट, के पी आवस्ती क्रेसर प्लांट, सरोज मिनरल क्रेसर प्लांट कई और ऐसे प्लांट है जो बिना पानी छिड़काये प्लांट चला कर धड़ल्ले से प्रदुषण फैला रहे है जिससे खेती दिनो दिन चौपट होती जा रही है और लोग बीमारियों से ग्रसित होते जा रहे है
वि/ओ:-3 यहां प्रशासन के नियमों की धज्जियां उड़ रही है। गौरतलब है कि प्रशासन ने करीब आधे दर्जन से अधिक क्रेशर प्लांट संचालकों को एनजीटी के निर्देशों का पालन करने नोटिस जारी किया था। सैकड़ों के तादाद में निकल रहे ओवरलोड ट्रक
दिन-रात उड़ रही धूल ग्रामीणों का कहना है कि दर्जनभर से अधिक संचालित क्रशर प्लांट से सैकड़ों की तादाद में दानव जैसे ट्रक गिट्टी लोड ट्रक बस्ती से होते हुए निकलते है सड़क पर चलना लोगों को बड़ा कठिन हो गया है वही ओर आसपास लोगों की खेती उड़ती धूल से पुलि प्रभावित हो रही है

Related Articles

Back to top button